Hindi Diwas kab manaya jata hai? – Hindi Day 2020 कब है?

Spread the love

Hindi Diwas kab manaya jata hai या Hindi Day 2020 kab hai, आज हम इस आर्टिकल में इसके बारे में विस्तार से जानेंगे| भारत में रहने वाले ज्यादातर लोगों की मातृभाषा हिंदी ही होती है| आप जो इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं, आपकी भी मातृभाषा हिंदी ही होगी| लेकिन क्या आप जानते हैं Hindi Diwas या Hindi Day क्यों मनाया जाता है? हिंदी दिवस एक ऐसा त्योहार है जो सिर्फ भारत में मनाया जाता है, यह दिवस हिंदी भाषा से ही जुड़ा होता है|

इस दिन राजभाषा के रूप में हिंदी भाषा को एक उच्च दर्जा मिला था| उस दिन से आज तक हर साल इस दिन को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है| भारत की मातृभाषा है हिंदी ही है| Hindi Day को मनाने के पीछे बहुत सारे कारण हैं, इसे हर वर्ष मनाने के पीछे लोगों को हिंदी भाषा के प्रति जागरूक करना है|

आप सभी जानते हैं कि आज के समय में, बहुत से ऐसे दफ्तर हैं, कार्यालय भी हैं जहां पर हिंदी का उपयोग पूरी तरह नहीं किया जाता, और यह दिन मनाने के पीछे यह भी एक महत्वपूर्ण उद्देश्य है ताकि लोग अपनी मातृभाषा के प्रति जागरूक हो| लोगों को यह समझना होगा कि हिंदी का उपयोग करके भी किसी भी कार्य को करना पूर्ण तरह संभव है| बहुत सारे लोग यह मानते हैं कि हिंदी का ज्यादा उपयोग करने से सभी कार्य पूरे नहीं हो सकते| तो मैंने सोचा कि आप सभी तक यह जानकारी पहुंचाओ कि आखिर Hindi Day या Hindi Diwas kab manaya jata hai?

हिंदी दिवस क्या है ? What is Hindi Day?

हिंदी दिवस एक ऐसा दिन है, जिस दिन भारत में उपयोग की जाने वाली हिंदी भाषा को भारत की राजभाषा का दर्जा मिला| जिस दिन हिंदी भाषा को भारत की राजभाषा बनाया गया उस दिन बहुत से लोगों ने भारत में दंगे किए, इसका कड़ा विरोध किया गया| लेकिन आखिरकार सबसे ज्यादा उपयोग की जाने वाली हिंदी भाषा को इस दिन भारत की राजभाषा बना दिया गया|

हिंदी दिवस के दिन बहुत सारे कार्यक्रमों को आयोजित किया जाता है, इसमें हिंदी भाषा में कविताएं, निबंध, गीत और वाद-विवाद की प्रतियोगिताएं आयोजित करके कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई जाती है| हिंदी दिवस के दिन हिंदी भाषा को बहुत ज्यादा बढ़ावा देने के लिए बेहतरीन हिंदी भाषी वक्ताओं को पुरस्कृत किया जाता है|

बहुत सारे ऐसे हिंदी प्रेमी भी है जो हिंदी दिवस का विरोध भी करते हैं| क्योंकि वह मानते हैं कि हिंदी को सिर्फ 1 साल में एक बार ही याद किया जाता है| उनके मुताबिक हिंदी भाषा को पूरे देश में एक राष्ट्रभाषा के रूप में दर्जा मिलना चाहिए, ताकि हर कार्यालय में बोलचाल और लिखावट में हिंदी भाषा का ज्यादा से ज्यादा उपयोग होना चाहिए ताकि हिंदी भाषा को विश्व स्तर तक लेकर जाया जा सके|Hindi Diwas kab manaya jata hai

लेकिन सोचने की बात यह है कि भारत में ज्यादातर आबादी की मातृभाषा हिंदी ही है, परंतु हिंदी को आज तक राष्ट्रभाषा का दर्जा नहीं मिल पाया है| आप जानते ही होंगे कि ज्यादातर कार्यालयों में, स्कूलों में और कॉलेजों में भी जो भी कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं चाहे वह हिंदी का ही कार्यक्रम क्यों ना हो उसमें भी हिंदी का उपयोग ना करते हुए, विदेशी भाषाओं का उपयोग किया जाता है जोकि सरासर गलत है|

Hindi Diwas kab manaya jata hai? when Hindi day is celebrates ?

हिंदी दिवस को हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है, हिंदी को राजभाषा का दर्जा 14 सितंबर 1949 को दिया गया था| इस दिन हिंदी भाषा के लिए बहुत सारे निर्णय लिए गए यही वजह है कि 14 सितंबर 1949 से आज तक सितंबर में ही हिंदी दिवस मनाया जाता है|

पंडित जवाहरलाल नेहरू जी जो भारत के पहले प्रधानमंत्री थे उन्होंने हिंदी के महत्व को देखते हुए इस दिन यानी कि 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाने को कहा| पहली बार Hindi Day (Hindi Diwas) 14 सितंबर 1953 को मनाया गया था| Hindi Diwas kab manaya jata hai

भारत के संविधान में हिंदी भाषा को राजभाषा 14 सितंबर 1949 को एकमत से निर्णय लेकर पूरा किया गया| उस दिन भारत में अंग्रेजी भाषा को हटाने पर बहुत से इलाकों में भयंकर दंगे हुए थे| जनवरी 1965 में तमिलनाडु में हिंदी भाषा को लेकर दंगे हुए|

हिंदी दिवस क्यों मनाते हैं| Hindi Diwas kyu manate hai ?

आप सभी जानते हैं कि भारत में ज्यादातर लोग लगभग 77% लोग हिंदी को बोलते हैं, समझते हैं और लिखते हैं यही कारण है कि हिंदी भारत की एक मुख्य भाषा है| लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि आज तक भारत में हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा का दर्जा नहीं मिल पाया है| आप सभी यह भी जानते होंगे आजकल यदि आप नौकरियां पाना चाहते हैं, या फिर स्कूलों में इंटरव्यू हो वह सभी अंग्रेजी भाषा में किए जाते हैं, अंग्रेजी भाषा को ज्यादा दर्जा मिलता है| बहुत से सरकारी दफ्तरों और ज्यादातर स्कूलों आदि में अंग्रेजी भाषा का ही प्रयोग कार्य करने में किया जाता है|

भारत के लोगों को हिंदी भाषा का महत्व समझाने और जागरूक करने के लिए हर वर्ष हिंदी दिवस मनाया जाता है| भारत के अधिकांश लोग यानी कि 50% से ज्यादा लोग हिंदी भाषा को पढ़ते, लिखते और समझते हैं हिंदी भाषा सामान्य बोलचाल की तो फिर कार्यालयों में या स्कूलों में काम करने के लिए हिंदी भाषा का प्रयोग क्यों नहीं किया जा सकता? ऐसा क्यों होता है की नौकरियां पाने के लिए भी आज भी अंग्रेजी भाषा को ज्यादा तवज्जो दी जाती है? ऐसा क्यों होता है कि सरकारी दफ्तरों में, कार्यालयों में हिंदी भाषा का बिल्कुल भी प्रयोग नहीं किया जाता या फिर बहुत कम किया जाता है|Hindi Diwas kab manaya jata hai

हिंदी दिवस की विशेषताएं |

हिंदी भाषा पर ज्यादा जोर देने के लिए हर साल हिंदी दिवस मनाया जाता है| हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में हमें अपनी प्रमुख भाषा और अपनी संस्कृति से अवगत करवाया जाता है| हमें और हमारी आने वाली पीढ़ियों को हिंदी भाषा के महत्व और हमारी संस्कृति को समझना होगा| अंग्रेजी भाषा को हिंदी भाषा के मुकाबले ज्यादा तवज्जो दिए जाने से हिंदी भाषा की दर घटती जा रही है| हर साल हिंदी दिवस हमें यह याद दिला आता है कि हिंदी भाषा हमारी प्रमुख भाषा है और हमें इसे किसी भी तरीके से आगे बढ़ाना चाहिए| Hindi Diwas kab manaya jata hai

हिंदी भारत की राजभाषा होने के साथ-साथ भारत की एक अतुल्य पहचान भी है| हिंदी भाषा का इतिहास भारत में हजारों वर्ष पुराना है| हमें अपनी मातृभाषा के रूप में हिंदी को याद रखना होगा, तथा हमारी आने वाली पीढ़ियों को हिंदी दिवस के रूप में बार-बार यह याद आता रहेगा कि हमारी संस्कृति में हिंदी का कितना महत्व है|

हिंदी दिवस कैसे मनाया जाता है ? Hindi diwas kaise manaya jata hai

हिंदी दिवस के अवसर पर भारत में बहुत से स्कूलों में कार्यक्रम किए जाते हैं| इस दिन हिंदी भाषा में प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं जिसमें कविताएं, निबंध लेखन और वाद विवाद किया जाता है, तथा जीतने वाले को पुरस्कृत किया जाता है|

फूलों में इस दिन हिंदी भाषा के महत्व को विद्यार्थियों को समझाया जाता है| इसका मुख्य कारण यह होता है कि लोग जिससे हिंदी भाषा के महत्व को समझें और अपने रोजमर्रा की जिंदगी में हिंदी भाषा का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें| इसके साथ साथ भारत में ज्यादा से ज्यादा हिंदी भाषा का प्रचार हो इस पर भी ध्यान दिया जाता है|

भारत में हिंदी दिवस के दिन बहुत तरह के पुरस्कारों का वितरण किया जाता है और बड़े-बड़े हिंदी भाषी वक्ताओं को सम्मानित किया जाता है| जैसे कि राजभाषा कीर्ति और राजभाषा गौरव इस दिन यानी कि हिंदी दिवस के दिन वक्ताओं को दिए जाते हैं|Hindi Diwas kab manaya jata hai

हिंदी भाषा के लिए राजभाषा गौरव पुरस्कार भारत के उस व्यक्ति को दिया जाता है जिसने तकनीक और विज्ञान में हिंदी भाषा में अच्छी पुस्तक या लेख लिखा हो इसके अलावा राजभाषा कीर्ति पुरस्कार किसी कार्यालय या फिर ऐसे संस्थान को दिया जाता है जहां पर सभी कार्य को करने के लिए अथवा बोलचाल की भाषा के लिए सबसे ज्यादा हिंदी भाषा का प्रयोग होता है और जहां पर हिंदी भाषा को सबसे ज्यादा बढ़ावा मिलता हो|

सारांश

मैं आशा करता हूं कि आपको यह आर्टिकल Hindi Diwas kyu banaya jata hai जरूर पसंद आया होगा| मैं हमेशा से यही कोशिश करता हूं कि हमारी वेबसाइट hellohoneyhira.com पर आने वाले सभी रीडर्स को पूरी और समझ आने वाली जानकारी मिले| जिससे उन्हें किसी अन्य वेबसाइट पर जाने की आवश्यकता ही ना पड़े|

इसका फायदा उन्हीं को होगा जो हमारी वेबसाइट पर आर्टिकल पड़ेंगे, क्योंकि उनका समय बचेगा मैं मानता हूं कि समय बहुत कीमती होता है और हमें अपने समय को बचाना चाहिए| अगर आपका कोई भी सवाल है या फिर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट बॉक्स पर कमेंट जरूर करें|

यदि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा और आप हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा के रूप में देखना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर चाहे आप व्हाट्सएप, फेसबुक या फिर ट्विटर पर भी शेयर कर सकते हैं|

अगर आप सोशल मीडिया और तकनीक के बारे में आसान और हिंदी भाषा में जाना और सीखना चाहते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं आपको नीचे हमारे युटुब चैनल का लिंक मिल जाएगा| आर्टिकल पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद आपका दिन शुभ हो|

YouTube Channel Link


Spread the love

Hey, I’m Honey Hira, A Full Time Blogger & Youtuber, Founder of HelloHoneyHira and Takniki Guruji YT, Here you will find Social Media Tips and Tech Tips in Hindi. Check out my YouTube Channel Takniki Guruji.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x